नीलम

image
image
image
image
image
image

नीलम

नीलम अत्यंत संवेदनशील रत्न की श्रेणी में आता है। सही निर्णय के अभाव में पहना गया नीलम विनाशकारी परिणाम प्रदान कर सकता है। यह शनि का रत्न है। जन्मांग में शनि के दुर्बल अथवा पापाक्रांत होने की दशा में नीलम अमृत का कार्य करता है। शनि के दुर्बल अथवा नकारात्मक होने के कारण गरीबी, अत्यधिक संघर्ष के बाद भी सफलता का न मिलना , प्रत्येक कार्य में बाधा, सामाजिक प्रतिष्ठा का गिरना, अनावश्यक विवाद में फंसना, नौकरी प्राप्त करने में भी संकट,धर्म के प्रति अरुचि, आर्थिक संकट, परिवार में वैमनस्यता आदि समस्याएं आ सकती हैं। इस रत्न को धारण करने के बाद शनि के संतुलित होने के कारण सभी सुख सहज ही प्राप्त हो सकते हैं।

वज़न: सामान्यत: 3 रत्ती से कम का नीलम नहीं पहनना चाहिए। क्योंकि इससे कम वजन अप्रभावी देखा जाता है। किसी योग्य ज्योतिषी अथवा हमारी एस्ट्रो टर्मिनल टीम के "ज्योतिषवार्ता" में विद्वान ज्योतिषियों से सलाह लेकर ही सही वजन का निर्धारण कर रत्न पहनने से लाभकारी परिणाम प्राप्त होने की अधिक संभावना कही जाएगी। उपलब्धता: स्टॉक में श्रेणी: रत्न उपनाम: नीलम
खाते का नाम खाता संख्या बैंक का नाम शाखा का नाम आईएफएससी कोड
Mool Chakram Private Limited 920020046439254 Axis Bank LTD Medical College Road-273001 UTIB0000744
ध्यान दें: शिपिंग और स्थानीय कर अतिरिक्त शामिल हैं
अधिक जानकारी के लिए या इस उत्पाद को ऑर्डर करने के लिए कृपया हमें अभी कॉल करें +91 8470954642
मूल्य
खान का नाम वजन(कैरेट) मूल्य
सिंगापुर बैंकाक
3 2300
4 3000
5 5500
6 7500
7 10000
8 16000
सिलोनी (श्रीलंका)
3 25000
4 35000
5 55000
6 68000
7 77500
8 92000
वर्मा
3 27000
4 38000
5 59500
6 74500
7 86000
8 98000
विशेष
ऐस्ट्रोटर्मिनल द्वारा आपको उपलब्ध कराए जाने वाला नीलम भिन्न-भिन्न विशेषज्ञों के भौतिक परीक्षण के साथ-साथ लैब द्वारा टेस्ट किए जाने के बाद प्रमाण पत्र के साथ दिया जाता है। जिसके शुद्धता की 100% गारंटी प्रदान की जाती है।

नीलम का उपरत्न

शनि का मूल रत्न नीलम है परन्तु कुछ विशेष स्थितियों में इसके उपरत्न का प्रभाव भी अत्यंत चमत्कारी देखा जाता है। नीलम के उपरत्न की श्रेणी में बहुत से उपरत्न आते है परन्तु ब्यवहारिक रूप से सबसे प्रभावकारी उपरत्न निम्नवत है :-